Friday, 18 August 2017

New Ghazal- दरबार में मैं यूँ ही नवाज़ा नहीं गया Mohammad Nadeem Baghpa...

New Ghazal- दरबार में मैं यूँ ही नवाज़ा नहीं गया Mohammad Nadeem Baghpa...

उस्ताद शायर के शेर सुनलो मज़ा आयेगा | Zia Baghpati Baghpat Mushaira 201...

सफर में नींद पूरी कर रहे हैं -Hilal Badayuni Baghpat Mushaira 2017 Waqt...

Romantic Poetry - दिल में बसा है कौन - Saba Balrampuri Latest Baghpat Mu...

Naat Shareef -Mohammad Nadeem- Baghpat Mushaira 2017

एक का विवाह एक का निकाह हो गया Yogendra Sundriyal | Baghpat Mushaira...