Monday, 13 February 2017

ग़ज़ल खता यह मुझ से हुई तुझ से प्यार कर बैठा - Mansoor Dehlvi Pali Hardoi...

No comments:

Post a Comment